Tuesday, February 7, 2023

Bank Main Khata Kaise Kholte Hai | जरूरी डाक्यूमेंट्स और फॉर्म भरने की जानकारी

Must Read

Bank Main Khata Kaise Kholte Hai : आज के समय में आपके पास एक बैंक खाता होना बहुत जरूरी है, क्योकि सभी सरकारी योजनाओं का लाभ आपको सीधे खाते पर दिया जाता है. Bank main khata kaise kholte hai आज हम इस पोस्ट में आपको किसी भी बैंक में खाता खोलने की पूरी जानकरी उपलब्ध करवाएंगे. और आप यह भी जान सकते है कि बैंक में खाता होना क्यों जरूरी है, बैंक में अकाउंट खोलने के लिए क्या डॉक्यूमेंट लगते है. आप इस लेख के माध्यम से जान पाएंगे कि बैंक में खाता कैसे खोलते है. तो अंत तक इस लेख ने बने रहे-

बैंक खाता होना क्यों जरूरी है

बैंक में खाता कैसे खोलते हैं प्रधानमंत्री जनधन अकाउंट के माध्यम से भारत सरकार ने सभी भारतीय नागरिको को बैंक से जोड़ने का काम किया था और यह योजना काफी सफल रही थी. कम समय में करोड़ो लोगो को बैंकिंग सुविधाओ से जोड़ दिया गया था. लेकिन इसके बावजूद आज भी काफी लोग ऐसे है जिनका बैंक में कोई खाता नहीं है. इसका मुख्य कारण या तो उनमे जानकारी का आभाव है या वह इसमें रूचि नहीं रखते है. अब हम कुछ बिन्दुओ के माध्यम से जानेंगे कि बैंक में अकाउंट खोलना क्यों आवश्यक है-

DBT (direct benefit Transfer) के लिए :-

आज के समय में कोई भी सरकारी योजना जैसे मनरेगा का पेमेंट, प्रधानमंत्री आवास योजना, समाज कल्याण विभाग के द्वारा प्रदान की जाने वाली पेंशन योजना, किसान सम्मान निधि योजना, मजदूर भरण पोषण योजना या अन्य कई योजनाओ के द्वारा प्रदान किये जाने वाली आर्थिक सहायता का लाभ सीधे लाभार्थी के बैंक खाते में प्रदान किया जाता है. इसलिए आपका बैंक खाता होना जरूरी है.

इन्टरनेट बैंकिंग के लिए :-

Digital लेन-देन के माध्यम से आज के समय में आप इन्टरनेट बैंकिग, UPI, Phone Banking के माध्यम से आप कही भी कभी भी अपने धन को एक क्लिक में दुनिया के किसी भी देश और जगह पर भेज सकते है और किसी भी तरह का भुगतान कर सकते है.

व्यापार के लिए :-

कोई भी व्यापार हो इसमे धन का लेन-देन होता है, और लोग वस्तु, सेवा के बदले में रुपयों का आदान प्रदान करते है. इसलिए अगर आप व्यापार कर रहे है या उसको शुरू करना चाहते है तो आपके पास एक बैंक खाता होना जरूरी है.

बचत के लिए :-

दुनिया में सभी लोग कोई न कोई काम करते है जिससे उनको जरूरत के लिए पैसे मिले और वह अपना जीवन यापन सही ढंग से कर पाए. लेकिन भविष्य में क्या जरूरत लग सकती है कौन से भौतिक समस्या आ जाये यह कोई नहीं जनता. इसलिए लोग आने वाले चुनौतियों का सामना करने के लिए कुछ न कुछ बचत अवश्य करते है. इसलिए अपनी बचत को सुरक्षित रखने के लिए आपको बैंक में खाता अवश्य खुलवाना चाहिए. जिसमे आप अपनी छोटी से छोटी बचत के जमा कर सके.

लोन लेने के लिए :-

कभी–कभी कोई आर्थिक जरूरत पूरा करना इतना आवश्यक हो जाता है कि हम अपनी सारी जमा पूँजी उसमे लगा देते है, परन्तु वह भी अपर्याप्त साबित होती है. इसलिए हम ऋण लेने की कोशिस करते है, लेकिन बैंक उन्ही ग्राहकों को ऋण प्रदान करता है जिनका खाता उनकी शाखा में होता है. इसलिए किसी भी प्रकार के ऋण के आवेदन के लिए आपके पास एक बैंक खाता होना जरूरी है.

इसके अतिरिक्त अन्य कई वजहों से बैंक में खाता होना जरूरी है इसलिए बैंक में अकाउंट कैसे खोलते है यह जरूर जाने-

Kotak811 online Account खोले वो भी फ्री में!

बैंक खाते के लाभ – Benefit of an Bank account in Hindi

  • Internet Banking, UPI के माध्यम से कोई भी लेन-देन आसानी से.
  • बचत को प्रेरित करना
  • योजनाओ का लाभ सीधे बैंक खाते में
  • आर्थिक जरूरतों को पूरा करना
  • ATM की सुविधा
  • आधार के माध्यम से आसानी लेन-देन

बैंक में खाते के प्रकार – Types of Account in Bank

बैंक खाते का प्रकारTypes Of Bank Accounts
बचत खाताSaving Bank Account (SB Account)
चालू खाताCurrent Bank Account
सावधि जमा खाताFixed Deposit Account (FD Account)
आवर्ती जमा खाताRecurring Deposit Account (RD Account)
बुनियादी बचत खाताNo Fill Account

मुख्य रूप से बैंकिंग भाषा में खातो के तीन प्रकार होते है बचत खाता, चालू खाता और ऋण खाता (Loan Account). लेकिन इन खातो के सञ्चालन और इसके कार्यो के आधार पर इनका वर्गीकरण किया गया है. इसके अतिरिक भी अन्य कई खाते खोले जाते है जैसे – Salary Account, Smart Deposit Account, Power Saving Bank Account और Term Deposit Account आदि.

E Shram Card Payment Status | ई श्रमिक कार्ड की क़िस्त ऐसे चेक करे

1. बचत खाता (Saving Bank Account)

अपनी बचत को जमा करने के उद्देश्य से जो खाता बैंक में खुलवाया जाता है उसे बचत खाता कहा जाता है. सेविंग अकाउंट में आप अपनी को सुरक्षित रखने की द्रष्टि से बंक्मे जमा करते है. तथा जरूरत पड़ने पर उसे निकाल भी सकते है. इस खाते में आप सीमित मात्रा में लेन-देन कर सकते है. Saving Bank Account में जमा की गयी धनराशी पर बैंक ब्याज प्रदान करता है.

सेविंग बैंक खाता आप व्यक्तिगत रूप से या संयुक्त रूप से खुलवा सकते है, किस एक व्यक्ति के द्वारा या दो या दो से अधिक व्यक्तियों के द्वारा बचत खाते का सञ्चालन किया जा सकता है. Joint Account को खुलवाते समय सभी सह खाता धारको के फोटो और आवश्यक डॉक्यूमेंट जमा करने होते है.

बैंक ऑफ़ बडौदा (BOB) बैलेंस चेक टोल फ्री नम्बर

संयुक्त बचत खाता Open करते समय यह भी जानकारी देनी होती है कि खाते का लेन-देन सभी के सहमती पर होगा या सभी लोग अलग-अलग लेन-देन कर सकते है सभी का आना जरूरी नहीं है.

Solar Rooftop Yojana क्या है |

2. चालू खाता (Current Bank Account)

व्यापारिक लेन-देन के लिए चालू खाता खुलवाया जाता है, अगर आप कोई व्यावसाय करते है तो आपके पास प्रतिदिन हजारो का लेन-देन होता है और कई बार आपको खाते से लेन-देन भी करना पड़ता है. इसलिए आपको Current Account Open करवाना जरूरी हो जाता है. क्योकि आप सेविंग अकाउंट पर ज्यादा लेन-देन नहीं कर सकते है. यहाँ आपको असीमित लेन-देन की सुविधा होती है.

आर्यावर्त बैंक बैलेन्स चेक नम्बर 2022 –

चालू खाते पर आपको ब्याज नहीं मिलता है चालू खाता धारक के लिए बैंक ओवरड्राफ्ट की सुविधा प्रदान करती है. इसलिए व्यावसायिक लेन-देन के लिए करंट अकाउंट का होना आवश्यक है.

3. सावधि जमा खाता (Fixed Deposit Account)

सावधि जमा खाता के माध्यम से आप अपने पैसे का निवेश कर सकते है. बैंक में लोग FD Account के माध्यम से निवेश करते है और अपनी जमा पर एक निश्चित ब्याज दर से ब्याज भी पाते है. सावधि जमा खाते में आपको अपने पैसे को निश्चित अवधि के लिए बैंक में जमा करना पड़ता है और बैंक उस जमा पर ब्याज प्रदान करती है.

[Apply] उत्तर प्रदेश मजदूर भरण पोषण योजना | 1000रु. की स्कीम के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करे

यह जमा 7 दिन से लेकर 10 साल तक हो सकती है, और FD पर आपको 4% से लेकर 11% तक का ब्याज प्रदान किया जाता है.

4. आवर्ती जमा खाता (Recurring Deposit Account)

 RD के माध्यम से आप अपनी बचत को बढ़ा सकते है और उसपर अच्छा ब्याज भी पा सकते है, आवर्ती जमा खाते में आपको एक निश्चित अवधि में निश्चित की गयी राशी को क़िस्त के रूप में जमा करनी पड़ती है, और जब आपकी RD पूरी होती है तो आपके जमा राशी पर ब्याज मिल जाता है. RD में आप 6 माह से लेकर 10 वर्षो तक निवेश कर सकते है. तथा किसी भी धनराशी का चयन कर सकते है.

पैसे कमाने वाला ऐप 2022 [₹1000+ प्रतिदिन कमाये]

5. बुनियादी बचत खाता (No Frill Account)

बुनियादी बचत खाता एक बिसिक बचत खाता होता है जो जीरो बैलेंस पर खुलवाया जाता है. इसलिए इसे जीरो बैलेंस खाता भी कहा जाता है. इसमें आपको न्यूनतम बैलेंस रखने की बाध्यता नहीं है. लेकिन इसमें प्रतिदिन आप ₹5,000 से ज्यादा लेन-देन नहीं कर सकते है.

बैंक में खाता खोलने के लिए आवश्यक दस्तावेज – Required Documents to Open An Bank Account)

अगर आप भी यह जानना चाहते है कि Bank Main Khata Kaise Kholte Hain तो आपको सबसे पहले यह जानना जरूरी है कि बैंक में खाता खोलने के लिए क्या दस्तावेज लगते है. किसी भी बैंक खाता खोलने के लिए नीचे दिए डाक्यूमेंट्स की जरूरत पड़ती है-

  • तीन फोटो (पासपोर्ट साइज़)
  • पहचान प्रमाण पत्र (आईडी प्रूफ)- आधार कार्ड, पैन कार्ड, वोटर आईडी कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, सरकारी विभाग द्वारा जारी पहचान प्रमाण पत्र आदि
  • निवास प्रमाण पत्र (एड्रेस प्रूफ)- बिजली बिल, टेलीफोन बिल, पानी का बिल, राशन कार्ड आदि
  • साझा पत्र (Partnership Deed) करंट अकाउंट के लिए
  • निगमन प्रमाणपत्र (Certificate of Incorporation) चालू खाता खोलने के लिए

बैंक अकाउंट कैसे खोलते है – How to Open An Bank Account in Hindi

बैंक में खाता खोलने के लिए आपको सबसे पहले उस बैंक की शाखा में जाना होगा और वहा बैंक खाता खोलने का फॉर्म लेकर उसे भरकर साथ में फोटो और सम्बंधित दस्तावेज सल्लग्न करके सम्बंधित अधिकारी के पास जमा करना होता है. हम नीचे चरणबद्ध तरीके से बैंक खाता खोलने के प्रोसेस को बता रहे है-

[Free] e-PAN Card kaise Banaye | मात्र 10 मिनट में पैन कार्ड बनाये बिना किसी शुल्क के

  1. सबसे पहले बैंक की शाखा में जाये.
  2. यहाँ आप Bank Account Opening का form प्राप्त करे.
  3. यह फॉर्म आपको निःशुल्क प्रदान किया जायेगा.
  4. फॉर्म को लेकर आप नीले पेन या काले पेन से मांगी गयी जानकारी को भरे.
  5. यहाँ आपको अपनी व्यक्तिगत जानकारी जैसे – नाम, पिता का नाम, जन्म तिथि (DOB), मोबाइल नंबर, अस्थाई और स्थाई पता, नॉमिनी का नाम और पता तथा सम्बन्ध, खाते का प्रकार, लगाये जाने वाले दस्तावेज का नाम और नंबर, आदि की जानकारी भरे.
  6. फॉर्म को भरने के पश्चात बैंक के नियम और शर्तो को पढ़े और सहमती के लिए 3 से 4 बार हस्ताक्षर करे.
  7. अपने डाक्यूमेंट्स की स्वहस्ताक्षरित कॉपी को फॉर्म के साथ अटैच करे.
  8. फोटो लगाकर उस पर हस्ताक्षर करे.
  9. अगर आप ATM और चेक बुक जारी करवाना चाहते है तो उस विकल्प पर टिक करे  
  10. अब सम्बन्धित अधिकारी के पास जाये और फॉर्म को जमा करे.
  11. इसके बाद बैंक कर्मचारी आपके फॉर्म और दस्तावेजो की जाँच करेगा.
  12. वेरिफिकेशन होने के बाद आपके खाते को खोल दिया जाता है और बैंक खाते की पासबुक आपको प्रदान कर दी जाती है.
  13. कई बैंक तुरंत नए खाते को खोल देती है तथा कुछ बैंको में 1 या 2 दिन का समय लग सकता है.

उम्मीद करता हूँ Bank Main Khata Kaise Kholte Hain या बैंक अकाउंट कैसे खोलते है इस सम्बन्ध में आपको यह जानकारी हेल्पफुल लगी होगी. अगर आपको हमारी यह जानकारी पसंद आई तो कमेन्ट बॉक्स में जाकर हमें अवश्य बताये और आप अन्य क्या जानकारी चाहते है यह भी अवश्य लिखे.

- Advertisement -spot_img

Leave a Reply

- Advertisement -spot_img
Latest News

ट्रांसजेंडर क्या होता है? Trangender Meaning in Hindi | ट्रांसजेंडर और किन्नर में अंतर

ट्रांसजेंडर क्या होता है? Transgender in Hindi, ट्रांसजेंडर और किन्नर में मूल अंतर क्या है? आदि के बारे में...
- Advertisement -spot_img

More Articles Like This

- Advertisement -spot_img
x
%d bloggers like this: