Tuesday, February 7, 2023

आवेदन पत्र (Application) का प्रारूप- प्रार्थना पत्र की रूपरेखा

Must Read

नमस्कार दोस्तों आज इस पोस्ट के माध्यम से आवेदन पत्र (Application) का प्रारूप के बारे में विस्तार से जानेंगे! सभी लोग जानते है, कि एक मौखिक बात के स्थान पर लिखे हुए शब्दों का अपना अलग ही महत्त्व होता है! जब भी किसी विषय में हमें किसी अधिकारी को अवगत कराना होता है तो उसे हम वह बात मौखिक न कहकर लिख कर देते है! जिस पर वह अधिकारी विचार करता है!

आवेदन पत्र की परिभाषा

“आवेदन पत्र वह प्रपत्र होता है जिसपर किसी विषय के बारे में सम्बंधित अधिकारी या व्यक्ति से उस विषय में कार्यवाही हेतु लिखकर दिया जाता है!”

आवेदन पत्र को English में Application कहा जाता है! तथा इसका दूसरा नाम प्रार्थना पात्र भी है!

प्रार्थना पत्र के माध्यम से हम सम्बंधित अधिकारी से उस विषय में समुचित कार्यवाही की अपेक्षा रखते है! हम अलग-अलग विभागों के लिए विभिन्न आवेदन पत्र के माध्यम से अनुरोध करते है!

जैसे नाम के सुधार के लिए आवेदन लिखने के लिए जहा भी आपको नाम सही करवाना है उस अधिकारी को प्रेषित करना होगा!

Application के मुख्य विन्दु

पढ़ा लिखा व्यक्ति अगर आवेदन पत्र नहीं लिखता है, या लिखने की कोशिश नहीं की! तो वह इसे नहीं लिख पायेगा अथवा समुचित तरीके से नहीं लिख पायेगा!

आवेदन पत्र लिखना भी एक कला है जिसमे कम शब्दों के माध्यम से बड़ी-बड़ी बातो को आसानी से कह दिया जाता है! इसको लिखते वक्त कुछ महत्त्व पूर्ण विन्दुओ को अगर ध्यान में रखा जाये तो कोई भी इसे लिखना सीख सकता है!

  • आपके द्वारा दिया गया आवेदन पत्र किसी कार्य के लिए आग्रह होता है! अतः शब्दों का चयन ऐसा हो जिसमे शालीनता दिखती हो और सम्बंधित व्यक्ति को लगे की आप काफी विनम्र स्वभाव वाले व्यक्ति है!
  • जिस भी विषय के लिए आवेदन किया जा रहा है उसे सबसे ऊपर विषय सूचि में अवश्य क्रमबद्ध करे!
  • अगर आप नौकरी के लिए आवेदन पत्र लिख रहे है, तो जो भी जानकारी आप प्रदान कर रहे है वह स्पष्ट हो और प्रमाणिक हो! यानि आपके द्वारा दी प्रार्थना पत्र में कही जाने वाली बाते विश्वसनीय होनी चाहिए जिन्हें आप आवश्यकता पड़ने पर सिद्ध भी कर सके!
  • लिखते समय स्पष्टता का बहुत ध्यान रखे अगर आवेदन पत्र अस्पष्ट और अपूर्ण है! तो उसपर कम ध्यान दिया जाता है!
  • दिए गए आवेदन पत्र के महत्वपूर्ण बिन्दुओ को हाईलाइट करने की कोशिश करे एवं उन्हें अंडरलाइन करे! क्योकि हाईलाइट किये गए विन्दुओ को ही पढ़कर पूरे प्रपत्र का सारांश निकला जा सकता है!

Types of Application (आवेदन पत्र के प्रकार)

Avedan patra अनेक प्रकार के होते है! आवेदन पत्र (Application) का प्रारूप को अलग-अलग जगहों पर विभिन्न format  में इस्तेमाल किया जाता है! यह हिंदी अंग्रजी अन्य भाषाओ में लिखा जाता है!

सांसद, मंत्री महोदय, विधायक के लिए आवेदन पत्र का अलग प्रारूप होगा और किसी ग्राम प्रधान को प्रार्थना पत्र का अलग!

 हम यहाँ पर कुछ महत्त्व पूर्ण आवेदन पत्र दे रहे है जीको आप पढ़कर और उनके लिखने के तरीके को जानकर शासकीय आवास हेतु आवेदन पत्र, 5 दिनों की छुट्टी के लिए आवेदन पत्र या अन्य भी application आसानी से लिख सकते है!

विद्यार्थियों द्वारा लिखे जाने वाले आवेदन-पत्र

Students (विद्यार्थियों) द्वारा प्रधानाचार्य (Principal) को या महा विद्यालय में कुलपति, कक्षा अध्यापक (Class Teacher) को पत्र लिख सकते है!

प्रशासनिक मामले में किसी अनुरोध के लिए शिक्षा मंत्री, मुख्यमंत्री, या सम्बंधित अधिकारी को अवगत कराने हेतु भी प्रार्थना पत्र दे सकते है!

Student’s द्वारा निचे दिए गए विषयो पर अधिकांश पत्र लिखे जाते है-

1- प्रवेश हेतु विशेष छूट के लिए!

2- विद्यालय में अवकाश हेतु।

3- विद्यालय के पुस्तकालय से पुस्तके प्राप्त करने के सम्बन्ध में!

4- फीस माफ करने सम्बन्धी

5- सेक्शन को बदलने हेतु!

6- विषय परिवर्तन हेतु!

7- टी. सी. (स्थानान्तरण प्रमाण पत्र)प्राप्त करने हेतु।

8- विद्यालय में होनेवाली प्रतियोगिता में भाग लेने हेतु!

9- परीक्षा में बैठने की अनुमति प्रदान करने के लिए!

10- प्रवेश पत्र या ID card खो जाने की स्थिति में दूसरा बनवाने हेतु!

11- समय-सारणी में परिवर्तन के लिए!

12- मार्कशीट या प्रमाणपत्र की डुप्लीकेट कॉपी हेतु!

13- Exam copy की re-counting हेतु!

बैंक में दिए जाने वाले आवेदन पत्र

समय के साथ लोगो का बैंक में काम लगा रहता है! और वहा पर भी बैंक में किसी जानकारी या किसी समस्या हेतु बैंक मेनेजर को प्रार्थना पत्र दिया जाता है! ये निम्नवत है –

  1. चेक प्राप्त करने हेतु आवेदन पत्र!
  2. बैंक पासबुक खो जाने / फट जाने की स्थिति में द्वितीय पासबुक हेतु प्रार्थना पत्र!
  3. खाते से बैलेंस कट जाने की जानकारी हेतु!
  4. EMI में छूट प्रदान करने हेतु!
  5. ऋण के व्याज में छूट प्रदान करने हेतु!
  6. खाते पर आधार / मोबाइल नम्बर लगाने हेतु!

इन्हें भी पढ़े ………………..

Flowers Name in English and Hindi – फूलो के नाम पिक्चर के साथ

RPM का फुल फॉर्म-RPM की Definition क्या है?

Debited Meaning in Hindi – डेबिटेड राशी का क्या मतलब होता है

Real Estate Business Meaning in Hindi. रियल स्टेट बिज़नेस क्या है?

कर्मचारियों के आवेदन पत्र

विभागीय कर्मचारियों द्वारा अपने उच्च अधिकारियो को विभिन्न मामलों में आवेदन पत्र (Application) का प्रारूप दिए जाते है  अधिकांश जिन विषयो को लेकर कर्मचारी आवेदन देते है वह निम्न है-

  1. नौकरी के लिए आवेदन पत्र!
  2. Office से छुट्टी के लिए आवेदन पत्र
  3. वेतन को बढाने के लिए!
  4. स्थानांतरण (Transfer) हेतु!
  5. नौकरी के स्थायीकरण के लिए!
  6. किसी त्रुटी के लिए क्षमा याचना हेतु!
  7. यातायात सुविधा हेतु!
  8. बोनस हेतु।
  9. नौकरी से त्यागपत्र!
  10. अनापत्ति प्रमाण पत्र हेतु!
  11. आवास हेतु!
  12. कार्यानुभव प्रमाण पत्र प्राप्त करने के लिए

अन्य साधारण आवेदन पत्र

इसके आलावा लोग पंचायत, पुलिस विभाग,पालिका, बिजली कार्यालय, डाक विभाग, सड़क विभाग में अनेक प्रकार के आवेदन दिए जाते है! जो निम्न है-

  1. पुलिस में किसी शिकायत(F.I.R.) को लिखाने हेतु!
  2. पालिका द्वारा पानी की सप्लाई सही करने हेतु!
  3. बिजली का मीटर ख़राब होने से सम्बंधित!
  4. बिजली बिल संसोधन हेतु!
  5. किसी जमीनी विवाद के निपटान हेतु!
  6. परिवार रजिस्टर में नाम सम्मिलित हेतु!
  7.  ग्राम पंचायत द्वारा अनापत्ति प्रमाण पत्र हेतु
  8. सरपंच द्वारा चरित्र प्रमाण पत्र प्रारूप हेतु!
  9. सड़क निर्माण हेतु विधायक को प्रार्थना पत्र

इस प्रकार हम कुछ महत्त्व पूर्ण विषयों पर आवेदन पत्र लिखते है!

विद्यार्थी के लिए आवेदन पत्र का प्रारूप

विद्यार्थी के लिए आवेदन पत्र का प्रारूप यहाँ पर प्रदान किया जा रहा है जिसे आप PDF में कन्वर्ट करके इस्तेमाल कर सकते है!

सेवा में ,

श्रीमान प्राचार्य महोदय

XYZविद्यालय (विद्यालय का नाम)

………………………………(विद्यालय का पता)

विषय : 5 दिनों  के अवकाश हेतु

महोदय,

सविनय  निवेदन है कि प्रार्थी/प्रार्थिनी आपके विद्यालय के कक्षा……………..का छात्र/छात्रा है! कल से हमें बुखार की शिकायत है!

मुझे चिकित्सक ने पांच दिन आराम करने की सलाह दी है. इसलिए मैं विद्यालय में दिनांक _ /_ /20__ से _ /_ /20__ तक विद्यालय में उपस्थित नहोने में असमर्थ हु!

अतः आप से अनुरोध  है कि मुझे दो पांच के लिए अवकाश देने की कृपा करें!

                                                    आपकी महती कृपा होगी !

धन्यवाद

दिनांक : _/_/20…                                                      आपका आज्ञाकारी

                                                         शिष्य/शिष्या

बैंक से दूसरी पासबुक जारी करने हेतु

सेवा में ,

श्रीमान वरिष्ठ शाखा प्रबन्धक महोदय

………………..बैंक  (बैंक का नाम)

………………………………(बैंक का पता)

विषय : पासबुक की द्वितीय प्रति जारी करने हेतु

महोदय,

सविनय  निवेदन है कि प्रार्थी/प्रार्थिनी का आपकी शाखा में बचत/ऋण खता संख्या ……………………………….

का खाता संचालित है!

उक्त खाते की पासबुक फट/खो गयी है!

अतः आप से अनुरोध  है कि मेरे खाते की दूसरी पासबुक जरी करने की कष्ट करे!

  आपकी महती कृपा होगी !

धन्यवाद

दिनांक : _/_/20…                                                                             निवेदक का नाम और हस्ताक्षर

                                                                               पता

- Advertisement -spot_img

Leave a Reply

- Advertisement -spot_img
Latest News

ट्रांसजेंडर क्या होता है? Trangender Meaning in Hindi | ट्रांसजेंडर और किन्नर में अंतर

ट्रांसजेंडर क्या होता है? Transgender in Hindi, ट्रांसजेंडर और किन्नर में मूल अंतर क्या है? आदि के बारे में...
- Advertisement -spot_img

More Articles Like This

- Advertisement -spot_img
x
%d bloggers like this: