जाने क्या है ऋषिगंगा पावर प्रोजेक्ट – Rishi Ganga Power Project Details in Hindi

जाने क्या है ऋषिगंगा पावर प्रोजेक्ट – ऋषिगंगा पावर प्रोजेक्ट उत्तराखंड के चमोली जिले में बिजली उत्पादन हेतु एक निजी क्षेत्र की Company द्वारा लगाया गया है, यह ऋषिगंगा नदी पर स्थित है!

ऋषिगंगा नदी नंदा देवी पर्वत के पास है ऋषि गंगा नदी नीचे आकर धौली गंगा में मिलती है! इसके ऊपरी भाग जोशी मठके पास ऋषि गंगा हाइड्रो पावर प्रोजेक्ट बना है! जिससे बिजली उत्पन्न करने का काम लिया जाता है!

ऋषि गंगा हाइड्रो पावर प्रोजेक्ट के बारे में विस्तृत जानकारी – Rishi Ganga power project details in Hindi

जोशी मठ में लगा ऋषि गंगा हाइड्रो पावर प्रोजेक्ट आज से लगभग 10 वर्ष पूर्व अपने उत्तराखंड में बिजली उत्पादन हेतु Rishi Ganga Power Corporation Limited एक निजी क्षेत्र की कंपनी द्वारा निर्माण किया गया था!

यह अब बिजली उत्पादन भी करने लगा है! इसका बांध स्थल 680 वर्ग किमी पर कैचमेंट एरिया है तथा जलग्रहण क्षेत्र 393 वर्ग किमी तक है! इसके अन्दर ग्लेशियर का क्षेत्र भी पड़ता है!

ऋषि गंगा बिजली परियोजना की कंपनी की जानकारी

ऋषि गंगा हाइड्रो पावर प्रोजेक्ट  Rishi Ganga Power Corporation Limited द्वारा शरू किया गया था! यह कंपनी 10 फरवरी 2006 बनी थी जोकि एक गैर-सरकारी यानि निजी क्षेत्र की कंपनी के रूप Registered हुई थी!

इस कंपनी को चंडीगढ़ में रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज एक्ट के तहत पंजीकृत किया गया था!

ऋषि गंगा पावर कॉर्पोरेशन लिमिटेड की आखिरी बार वार्षिक आम बैठक 30 सितंबर 2015 को आयोजित की गई थी और कॉर्पोरेट मामलों के मंत्रालय के रिकॉर्ड के अनुसार, इसकी बैलेंस शीट 31 मार्च 2015 को दर्ज की गई थी!

इसकी शेयर पूँजी 290,000,000 थी! इस कंपनी के Directors जय भगवान, विदित गर्ग और ओम प्रकास यादव है!

यह कंपनी 14 वर्षो से निजी क्षेत्र में काम कर रही है! और इसका Registration Number 29675 है!

बिजली उत्पादन की क्षमता – Rishi Ganga power project capacity

ऋषि गंगा बिजली उत्पादन केंद्र 35 मेगावाट बिजली उत्पादन क्षमता रखता है, और यह इस समय Annual energy 164.64 GWh  उत्पादन करके दे रहा है!

Rishi ganga power project construction PERIOD

यह परियोजना लगभग पांच वर्षो में बनकर तैयार हो गयी थी और उसके बाद इसमें उत्पादन शरू हो गया था!

धीरे-धीरे इसके स्वरुप का विस्तार किया जा रहा था, तथा अभी इसमी कुछ यूनिट निर्माणाधीन भी थी जिनपर कार्य प्रगति पर है!

परियोजना और विवाद

यह प्रोजेक्ट अपने बनने के समय से ही विवादों के घेरे में आ चूका था! क्योकि कुछ पर्यावरण विद इस पर अपनी असहमति भी व्यक्त कर चुके थे!

धार्मिक संगठन भी गंगा पर इस प्रकार के बांध के बनाए जाने के खिलाफ थे! क्योकि अगर ऋषि गंगा बांध के द्वारा गंगा नदी को बाधित कर दिया गया तो लाखो लोग जो गंगा में स्नान, पूजा अर्चना करते है तो उनकी आस्था को कही न कही ठेस पहुच रही थी!

बाढ़ से ऋषिगंगा पावर प्रोजेक्ट को नुकसान

चमोली जिले में पहाड़ के ऊपरी हिस्से में ग्लेशियर के टूटने के कारण धौलीगंगा नदी में अचानक बहुत बाढ़ आ गयी! और जब उचाई से पानी नीचे की तरफ भागता है तो उसका वेग विकराल होता है!

8 फरवरी 2021 को धौली गंगा की बाढ़ ने विकराल तांडव किया और पानी का वेग इतना तीब्र था की लोगो को संभलने का मौका नहीं मिला!

इस बाढ़ ने  ऋषिगंगा पावर प्रोजेक्ट को भारी नुकसान पहुचाया है! और इसमें कार्यरत लगभग 150मजदूर गायब बताये जा रहे है!

यह पानी जहा से गुजरा वहा पर पड़ने वाले पुलों, मकानों को अपने साथ बहाता लेता चला गया! बहुत जान और माल का नुकसान हुआ है!

यह भी पढ़े …….कार्बन कैप्चर टेक्नोलॉजी क्या है, इसका कार्य क्या है? दुनिया में क्या बदलाव आयेगा

तांडव वेब सिरीज में क्या है – हिन्दू भावनाये आहत करना साजिश या भूल

rishi ganga power project in uttarakhand

जाने क्या है ऋषिगंगा पावर प्रोजेक्ट के बारे में आपके पास कोई जानकारी उपलब्ध है तो उसे कंमेंट बाक्स में लिखकर हमें जरूर बताये!

और इसे ही मजेदार और शिक्षाप्रद टॉपिक्स पर जानकारी हेतु आप नियमित रूप से हमारी वेबसाइट catchmoney.in पर आते रहे!

2 thoughts on “जाने क्या है ऋषिगंगा पावर प्रोजेक्ट – Rishi Ganga Power Project Details in Hindi”

Leave a Reply

x
%d bloggers like this: